Donate Us

Followers

Saturday, September 5, 2020

SP, DSP, Judge, Governer सुबह सुबह हमारे ऑफिस में झाड़ु लगाते हैं- अधिकारी लोहिया ग्राम आवास विभाग, लखनऊ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अपराध तो चरम पर है ही रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार भी चारो तरफ फैल चुका है। उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से ग्रामीन ईलाके के लिए लोहिया ग्राम आवास योजना के अंतर्गत ग्रामीन लोगों को राज्य सरकार की तरफ से आवास बनाने के लिए सहायता राशी दी जाती है।

Chief Minister of Uttar Pradesh

लोहिया ग्राम आवास योजना में धांधली और भ्रष्टाचार का आलम ये है कि ग्राम प्रधान से लेकर योजना से जुड़े अधिकारी तक रिश़्वत लिए बगैर योजना का पैसा जनता तक नही पहुँचने देते हैं। सरकारी आवास के नाम पर गरीब लोगो को प्रधान एवं प्रधान के आदमी धोखा देकर पैसे तो खाया करते ही हैं, अधिकारी तक बिना रिश़्वत लिए काम नही करते हैं।

ऐसा ही एक मामला  ग्राम :रेहटा,  पोस्ट : ककरी भिसुर, थाना :अनपरा, जिला- सोनभद्र, उत्तर प्रदेश से आया है, जहाँ के ग्राम प्रधान उमाशंकर यादव ने सुनीता देवी नामक महिला से लोहिया ग्राम आवास योजना में सरकार की तरफ से दिए जाने वाले सहायता के लिए 11000 रुपए बतौर रिश़्वत अपने आदमी सरताज के माध्यम से लिए फिर भी काम नही किया, जब महिला ने इस संबंध में ग्राम प्रधान से बात की तो टाल मटोल किया जाने लगा। दरअसल पुरा मामला ये है कि सुनीता देवी नामक महिला ने लोहिया ग्राम आवास योजना अंतर्गत सरकारी सहायता के लिए आवेदन किया, तब ग्राम प्रधान ने आवेदन पास करवाने के लिए रिश़्वत की माँग की जिसकी पहली किस्त 11000 रुपए सुनिता देवी ने जमा कर दी, फिर भी काम न हो सका और ग्राम प्रधान से सवाल करने पर टाल मटोल किया जाने लगा।

जब पिड़ित महिला ने भारतीय इंसान पार्टी के सोनभद्र जिला अध्यक्ष मो० अरशद अली फातमी से संपर्क कर पुरा मामला बता मदद की गुहार लगाई तब पिड़ित महिला की तरफ से मो० अरशद अली फातमी ने इस संबंध में लोहिया ग्राम आवास एंव जनधन योजना कार्यालय, हज़रतगंज, लखनऊ से संपर्क किया तब अधिकारियों ने टाल मटोल करना शुरु किया, मो० फातमी ने जब पैसे वापस माँगे तब अधिकारी राजकुमार ने कहा कि पैसे वापस पाने के लिए रिटर्न फॉर्म भरना पड़ेगा। मो० फातमी ने जब रिटर्न फॉर्म के नाम पर आपत्ती जताई तब अधिकारी ने कहा हाथ मुँह धोकर बैठ जाओ पैसे नही मिलेगें। जब मो० फातमी हाथ मुँह धोकर बैठ जाओ वाली बात पर अधिकारी पर गुस्सा हुआ तो अधिकारी राजकुमार ने कहा कि SP, DSP, Judge, Governer सुबह सुबह हमारे ऑफिस में आकर झाड़ु लगाते हैं, तुम्हे जो करना है कर लो और फोन काट दिया। दुबारा फोन करने पर लोहिया ग्राम आवास योजना के अधिकारी राजकुमार ने कहा कि 11000 में से 6000 ग्राम प्रधान उमाशंकर यादव के पास हैं और 5000 हमारे अधिकारियों के पास है, पैसे वापस चाहिए तो अपने ग्राम प्रधान उमाशंकर यादव से संपर्क करो।

जब पिड़ित महिला के कहने पर मो० अरशद अली फातमी ने ग्राम प्रधान पर दवाब बनाने के लिए ग्राम प्रधान उमाशंकर यादव से फोन पर बात की तो ग्राम प्रधान ने मो० अरशद अली फातमी को ही अपहरण की धमकी दे डाली। भारतीय इंसान पार्टी के सोनभद्र जिला अध्यक्ष मो० अरशद अली फातमी ने देश रक्षक न्युज़ से बात करते हुए बताया कि ग्राम प्रधान उमाशंकर यादव और उनके लोग गरीब लोगों को सरकारी आवास देने का झाँसा देकर लोगो से पैसे लेते हैं जब मुझे इस बात का पता लगा तो मैंने फोन किया तो मुझे उठा लेने की धमकी और जान से मार देने का भी धमकी दिया गया और गंदी गंदी गाली दी गई।

0 comments:

Post a Comment