Donate Us

Followers

Sunday, September 13, 2020

डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर लालु यादव, तेजस्वी यादव और नितिश कुमार का मार्मिक संदेश। मुख्यमंत्री ने राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टि का निर्देश दिया।

आज राजद के दिग्गज नेता और पुर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह का ईलाज के दौरान दिल्ली AIIMS में निधन हो गया। उनके निधन पर लालु प्रसाद यादव, तेजस्वी यादव और नितिश कुमार सहित कई नेताओं ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

Dr Raghuwansh Prashad Singh

राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालु प्रसाद यादव ने शोक व्यक्त करते हुए अपने मार्मिक संदेश में कहा कि प्रिय रघुवंश बाबू! ये आपने क्या किया? मैनें परसों ही आपसे कहा था आप कहीं नहीं जा रहे है। लेकिन आप इतनी दूर चले गए। उन्होने कहा कि मैं नि:शब्द हूँ, दुःखी हूँ, डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह बहुत याद आएँगे।

वहीं राष्ट्रीय जनता दल के पुर्व अध्यक्ष तेजस्वी यादव ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि आदरणीय रघुवंश बाबू, अभी चंद दिन पहले तो दिल्ली AIIMS में आपसे मुलाक़ात हुई थी, मेरे द्वारा जल्द स्वस्थ होने की बात कहने पर आपने कहा था जल्द बाहर आकर साथ में कड़ा संघर्ष करेंगे। पिता जी के जेल जाने के बाद आप चंद लोग ही तो ऊर्जा और प्रेरणा देते रहे है, अचानक चले गए आप और मुझे लगभग अकेला कर गए। 

तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि राजद के मजबूत स्तम्भ, प्रखर समाजवादी जनक्रांति पुंज हमारे अभिभावक पथ प्रदर्शक आदरणीय श्री रघुवंश बाबू के दुःखद निधन पर मर्माहत हूँ। आप समस्त राजद परिवार के पथ प्रदर्शक, प्रेरणास्रोत व गरीब की आवाज बने रहे। रघुवंश बाबू की क्रांतिकारी समाजवादी धार राजद के हर कार्यकर्ता के चरित्र में है, उनकी गरीब के प्रति चिंता, नीति, सिद्धांत, कर्म, और जीवनशैली हमेशा हमारे लिए प्रेरणास्त्रोत बनी रहेगी। राजद को अपनी मेहनत और वैचारिक दृष्टिकोण से सिंचने वाले कर्म के धनी महान व्यक्तित्व को सादर नमन, आपकी कमी राजद व देश को सदैव खलेगी।

मुख्यमंत्री नितिश कुमार ने डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर अपने शोक संदेश में कहा कि डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह एक प्रख्यात समाजवादी नेता थें, वह स्व० कर्पुरी ठाकुर के मंत्रीमंडल में कैबिनेट मंत्री रहें, उन्होने वैशाली से चार बार लोकसभा का प्रतिनिधित्व किया और ग्रामीण विकास मंत्री के रुप में उनका काम अत्यंत सराहनीय रहा है। उनके निधन से राजनितिक, समाजिक, शिक्षा तथा समाजवाद के क्षेत्र में अपुर्णिय क्षति हुआ है।

उन्होने डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह के बेटे से फोन पर बात कर उन्हे संताव्ना दी और अधिकारियों को निर्देश दिया कि उनके शव को पुरे राजकीय सम्मान के साथ पटना लाया जाए और फिर उनके पैतृक आवास पर पुरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाए।

आपको बता दें कि डॉ० रघुवंश प्रसाद सिंह बिहार के वैशाली लोकसभा क्षेत्र से चार बार सांसद रह चुके हैं और मनमोहन सिंह की UPA1 सरकार के दौरान ग्रामीण विकास मंत्री भी रहें, नरेगा यानी कि National Rural Employment Guarantee Act लाने में उनका अहम भुमिका थी।



0 comments:

Post a Comment