Donate Us

Followers

Tuesday, August 25, 2020

उत्तर प्रदेश में एक और दलित लड़की की हत्या, ब्लात्कार की आशंका।

उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने का दावा करने वाली योगी आदित्यनाथ सरकार के राज में उत्तर प्रदेश हत्या और अपराध का गढ़ बनती जा रही है।

कल सोमवार की देर शाम उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिला के नीमगाँव ईलाके में छात्रवृति के लिए ऑनलाईन छात्रवृति फॉर्म भरने पड़ोस के गाँव गई दलित लड़की की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई। पहली नज़र में देखने पर ब्लात्कार के बाद हत्या का अंदेशा जाहिर किया जा रहा है।

फोटो स्रोत-सोशल मिडिया

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिला के नीमगाँव ईलाके में एक दलित लड़की की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई, आशंका है कि लड़की के साथ ब्लात्कार करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई है और उसके बाद शव को झाड़ियों में फेंक दिया गया। बड़े ही अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है कि उत्तर प्रदेश में हत्या, ब्लात्कार और छेड़छाड़ की घटना आम हो चुकी है, इसके पहले 16 अगस्त 2020 को 13 साल की एक मासुम दलित लड़की के साथ ब्लात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई थी, प्रत्यक्षदर्शियों का कहना था कि लड़की की आँख फोड़ दी गई और जीभ काट दिया गया था। हालांकि पुलिस ने आँख फोड़ने और जीभ काटने की बात से इंकार किया था तो वहीं उत्तर प्रदेश में ही सुदीक्षा भाटी नाम की एक लड़की जो अमेरिका में स्कॉलरशीप पर पढ़ाई कर रही थी और लॉकडाउन की वजह से घर आई हुई थी उसकी मौत कुछ मनचलों द्वारा छेरखानी करने पर उनसे बचने के प्रयास में सड़क हादसे में हो गई थी।

लड़की के माता पिता ने बताया कि ऑनलाईन छात्रवृति फॉर्म भरने के बाद जब देर शाम तक बेटी घर वापस नही लौटी तब पुलिस को इसकी सुचना दी थी। लखीमपुर खीरी के पुलिस अधीक्षक सतेन्द्र कुमार सिंह और जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने मौके पर पहुँच कर घटना का जायज़ा लिया। वहीं पुलिस उपाधिक्षक मितौली शीशांतु कुमार ने बताया कि लड़की की हत्या धारदार हथियार से गला काट कर किया गया है और शव को झाड़ियों में फेंक दिए जाने की वजह से पैर पर आवारा पशुओं के नोचने के निशान हैं, ब्लात्कार की बात की पुष्टि पर उन्होने कहा कि जाँच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

देश रक्षक न्युज़ को ट्विटर पर फॉलो करने के लिए यहाँ क्लिक करें

0 comments:

Post a Comment