Donate Us

Followers

Sunday, August 30, 2020

नरेन्द्र मोदी के मन की बात को जनता ने नकारा, युट्युब पर लाईक से कई गुणा ज़्यादा डिसलाईक किया गया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज आकाशवानी के जरिए देश की जनता से "मन की बात" की जिसका सीधा प्रसारण आकाशवानी यानी ऑल इंडिया रेडियो द्वारा किया गया वहीं युट्युब पर भारतीय जनता पार्टी के ऑफिसियल युट्युब चैनल सहित लगभग मेन स्ट्रीम मिडिया के सभी चैनलों से भी प्रसारण किया गया। मन की बात कार्यक्रम के जरिए जनता को विश़्वास था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जनता के हितों की बात करेगें, बेरोजगारी से निपटने की बात करेगें, अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाने की बात करेगें लेकिन प्रधानमंत्री ने इन सब मुद्दों पर बात करने की जगह बच्चों को कहानिया सुनाते रहे खिलौने दिलाने का ख्वाब दिखाते रहें, जिसे सुन कर जनता और व्युवर्स भड़क गए और मन की बात कार्यक्रम को युट्युब पर डिसलाईक करना शुरु कर दिया।


दुसरे चैनलों पर तो दर्शकों ने मन की बात कार्यक्रम को डिसलाईक किया तो किया सबसे ज़्यादा हैरत की बात ये है कि भारतीय जनता पार्टी के ऑफिसियल युट्युब चैनल पर दर्शकों ने इस कार्यक्रम को लाईक करने के मुकाबले कई गुणा ज़्यादा डिसलाईक किया। आज शाम तक जहाँ भारतीय जनता पार्टी के ऑफिसियल युट्युब चैनल पर इस कार्यक्रम को 165K लोगों ने देखा तो वहीं इसे 51 हजार लोगों ने डिसलाईक भी किया जबकि लाईक करने वालों का आँकड़ा सिर्फ 4.1 हजार ही रहा। समाचार लिखे जाने तक ये आँकड़ा और भी भयावह हो गया, रात 10:30 बजे तक इस कार्यक्रम को जहाँ 3,24,270 लोगों ने देखा तो वहीं इसे डिसलाईक करने वालों का आँकड़ा 92 हजार पहुँच गया और लाईक करने वालों का आँकड़ा सिर्फ 7.4 हजार ही रहा।


रात 10:30 का आँकड़ा नीचे


मतलब अब ये साफ हो चुका है कि जनता प्रधानमंत्री के मन की बात नही बल्कि रोजगार, शिक्षा और अर्थव्यवस्था जैसे मुद्दों पर बात करना चाहती है और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी ये समझना होगा वर्ना जो जनता सत्ता के सिंहाषन पर बिठाती है वही जनता कुर्सी से उतारना भी जानती है।

0 comments:

Post a Comment