Donate Us

Followers

Sunday, August 23, 2020

डॉ० कफील खान की रिहाई पर ईलाहाबाद उच्य न्यायालय में अंतरिम सुनवाई कल, परिवार वालों ने दुआ की अपील की।

 गोरखपुर के बी० आर० डी० अस्पताल के पुर्व डॉक्टर कफील खान इन दोनो रासुका यानि राष्ट्रीय सुरक्षा कानुन के तहत जेल में बंद हैं, उन पर CAA और NRC के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान उन के दिए भाषण के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने रासुका लगा रखा है और बीते दिनों डॉ० कफील पर लगाए गए रासुका की अवधी 3 महीनों के लिए और बढ़ा दी गई थी।

डॉ० कफील खान के परिवार या दोस्तों ने उनके फेसबुक अकाउण्ट से पोस्ट करते हुए अंतरिम सुनवाई की जानकारी दी और साथ ही डॉ० कफील के चाहने वालों से साथ देने के अलावा दुआ/प्रार्थना करने की भी अपील की है।

राजनितिक दुर्भावना से लगाए गए NSA की पीड़ा को मैं बखुबी समझता हुँ- भीम आर्मी चीफ

गौरतलब है कि डॉ० कफील खान की रिहाई के लिए सोशल मिडिया से लेकर सड़क तक लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है, भारतीय इंसान पार्टी, समाजवादी पार्टी, काँग्रेस सहित कई छोटी बड़ी पार्टी ने डॉ० कफील की रिहाई की माँग की है, वहीं सोशल मिडिया पर डॉ० खान की रिहाई के लिए कई हैशटैग के साथ लगातार विरोध किया जा रहा है और उनकी रिहाई की माँग की जा रही है।

आपको बताता चलुँ कि काँग्रेस की तरफ से प्रियंका गाँधी वाड्रा ने बड़े पैमाने पर माँग करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखी थी तो वहीं समाजवादी पार्टी और भारतीय इंसान पार्टी भी लगातार डॉ० कफील खान की रिहाई के लिए सड़क से लेकर सोशल मिडिया तक माँग उठा रही है।

सोशल मिडिया पर डॉ० कफील खान के अकाउण्ट से इस फोटो को शेयर किया गया है। ज्ञात हो कि डॉ० कफील खान ने गोरखपुर के बी० आर० डी० अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण उभरे हालात में अपनी ज़िम्मेदारी निभाते हुए कई बच्चों की जान बचाई थी तो वहीं बिहार में चमकी बुखार के समय बिहार पहुँच कर बच्चों का ईलाज किया था।

0 comments:

Post a Comment